ब्लोगिंग जगत के पाठकों को रचना गौड़ भारती का नमस्कार

Website templates

समर्थक

शनिवार, 28 नवंबर 2009

समरूपताएं


तितलियों और लड़कियों की
अजीब समरूपताएं
अलियों और लड़कों को
पीछे-पीछे भगाएं
इन्द्रधनुष रंगों से सजें
छेड़ने की इन्हें सजाएं
रंग छोड़ें, रंग बदलें
रंगेहाथों पकड़वाएं
इठलाती उड़ती फिरें
मन ही मन लुभाएं
पंख पसारे उड़ती जाएं
अलियों को तड़पाएं
दूर रहें हाथ न आएं
यही इनकी विदू्रपताएं

15 टिप्‍पणियां:

Udan Tashtari ने कहा…

सच कहा/// कितनी समरुपताएँ-बढ़िया रचना!!

M VERMA ने कहा…

बेहतरीन रचना. समरूपता तो है ही

अजय कुमार ने कहा…

बहुत तार्किक रचना

Vivek Rastogi ने कहा…

दूर रहें हाथ न आयें..

बिल्कुल सही :) बहुत अच्छी रचना।

Nirmla Kapila ने कहा…

बहुत खूब सुन्दर रवना शुभकामनायें

sangeeta ने कहा…

bahut khoob samroopta batayi Rachna ji aapne...badhai

दिगम्बर नासवा ने कहा…

SAMROOPTA TO HAI HI ..... SAARTHAK RACHNA .... BAHUT ACHEE RACHNA HAI ...

Dr.R.Ramkumar ने कहा…

तितलियां और लड़कियां...
इठलाती उड़ती फिरें ...
अलियों को तड़पाएंकृ
हाथ न आएं...
यही इनकी विद्रूपताएंकृ

अच्छी और सच्ची अनुभूति ....काश कोई जले पर कोई नमक न समझे

Dr.R.Ramkumar ने कहा…

तितलियां और लड़कियां...
इठलाती उड़ती फिरें ...
अलियों को तड़पाएं..
हाथ न आएं...
यही इनकी विद्रूपताएं..

अच्छी और सच्ची अनुभूति ....काश जले पर कोई नमक न समझे

Dr.R.Ramkumar ने कहा…

वक्त के दर्द का एक सुच्चा अहसास... उदासियों के झांकते अक्श...बेहतर..

योगेश स्वप्न ने कहा…

wah , kya khoob samantayen dhoondhi hain aapne bilkul sahi, behatareen.

iske saath hi rachna ji, main aapka hriday se dhanyawaad karna chahta hun, aaj mere blog ko ek varsh poora hua, aap mere blog ki pratham post ki tippnikaar hain, aapke protsahan aur hausla afjai se aaj main blog ka ek varsh safalta se paar karne men safalhua hun, aapka hriday se aabhaari hun. punah dhanyawaad.

संजय भास्कर ने कहा…

बहुत खूब सुन्दर रवना शुभकामनायें

संजय भास्कर ने कहा…

बहुत ही भावपूर्ण निशब्द कर देने वाली रचना . गहरे भाव.
संजय कुमार
हरियाणा
http://sanjaybhaskar.blogspot.com

harishjharia ने कहा…

ऊत्तम रचना है यह्…
मेरे ब्लोग पर आने के लिए धन्यवाद्…
आपका ब्लाग ज्वाइन कर लिया है…
मेरे ब्लाग को ज्वाइन करने के लिए आमत्रित हैं…

संजय भास्कर ने कहा…

बहुत खूब सुन्दर रवना शुभकामनायें