ब्लोगिंग जगत के पाठकों को रचना गौड़ भारती का नमस्कार

Website templates

समर्थक

बुधवार, 7 अक्तूबर 2009

चांद का इंतज़ार













चांद का इंतज़ार किसे नहीं होता
कौन सा जहान है, ये जहां नहीं होता
इंतज़ार किया और सदा करेंगें
प्रेमी जोड़े समन्दर किनारों पर
उड़ते पक्षी दरख्तों की डालों पर
थके मांदे लोग घरौंदों में जाने पर
मंगलकामना करती सुहागनें करवाचौथ पर
रोजे इफ्खार के पिपासे ईद पर
बिछड़े मीत मिलने की उम्मीद पर
नवजात कोख से बाहर आने पर
दिन गिनने वाले तारीख बदलने पर
दूधिया लिबास का गहरे आकाश पर
चांद का इंतज़ार किसे नहीं होता
चांद का इंतज़ार किसे नहीं होता

14 टिप्‍पणियां:

अर्शिया ने कहा…

करवा के महत्व पर सांकेतिक रूप में बहुत सुंदर कविता है।
करवा चौथ की हार्दिक शुभकामनाएँ।
----------
बोटी-बोटी जिस्म नुचवाना कैसा लगता होगा?

ओम आर्य ने कहा…

बहुत ही सुन्दर भावपुर्ण रचना .........अतिसुन्दर है चाँद का इंतजार!

vikram7 ने कहा…

चांद का इंतज़ार किसे नहीं होता
कौन सा जहान है, ये जहां नहीं होता
भावपुर्ण सुन्दर रचना

वाणी गीत ने कहा…

चाँद का इंतज़ार किसे नहीं होता ...आसमान और जमीन दोनों पर ही ...!!

sangeeta ने कहा…

wakayi chand ka intzaar sabhi karate hain....sundar rachna

badhai

GATHAREE ने कहा…

ये इंतज़ार आनंद भी बहुत देता है

Mumukshh Ki Rachanain ने कहा…

ज़िन्दगी को सुकून से रूबरू करना है, पाना है तो चाँद का, उसकी शीतलता का इंतजार तो करना ही होगा.

बहुत बढ़िया प्रयास.

बधाई.

चन्द्र मोहन गुप्त
जयपुर
www.cmgupta.blogspot.com

ज़ाकिर अली ‘रजनीश’ ने कहा…

माफी चाहूँगा, आज आपकी रचना पर कोई कमेन्ट नहीं, सिर्फ एक निवेदन करने आया हूँ. आशा है, हालात को समझेंगे. ब्लागिंग को बचाने के लिए कृपया इस मुहिम में सहयोग दें.
क्या ब्लागिंग को बचाने के लिए कानून का सहारा लेना होगा?

ज़ाकिर अली ‘रजनीश’ ने कहा…

माफी चाहूँगा, आज आपकी रचना पर कोई कमेन्ट नहीं, सिर्फ एक निवेदन करने आया हूँ. आशा है, हालात को समझेंगे. ब्लागिंग को बचाने के लिए कृपया इस मुहिम में सहयोग दें.
क्या ब्लागिंग को बचाने के लिए कानून का सहारा लेना होगा?

ज़ाकिर अली ‘रजनीश’ ने कहा…

माफी चाहूँगा, आज आपकी रचना पर कोई कमेन्ट नहीं, सिर्फ एक निवेदन करने आया हूँ. आशा है, हालात को समझेंगे. ब्लागिंग को बचाने के लिए कृपया इस मुहिम में सहयोग दें.
क्या ब्लागिंग को बचाने के लिए कानून का सहारा लेना होगा?

arvind ने कहा…

chand kaa intezar kise nahi hota.....achhi kavita likhti hain,subhkaamnaye.

krantidut.blogspot.com

लता 'हया' ने कहा…

bahut bahut shukria,

intazar ka vistar qabile-taarif hai;

tamam umr tera intazar kar lenge
magar ye ranj rahega ki zindgi kam thi.

alkagoel ने कहा…

ब्लॉग जगत के साथियो नई जानकारी कमाई की
ब्लॉग जगत के साथियो एक नयी एअर्निंग तकनीक के साथ ब्लॉग जगत में आप सबका स्वागत है अद्सेंसे ने नई साथ दिया तो किया है इन सब को अजमाकर देखे और बताये कैसी रही जानकारी साथ ही कमाई भी ........http://alkagoel1408.blogspot.com/

vikash world ने कहा…

app ka kavita bahut achha hai
mai bhi blog likhta hu plz help me how to write blog
http://kumarvikashonair.blogspot.com